Independence Day Speech in Hindi

Independence Day Speech in Hindi – 15 अगस्त भारतवर्ष का एक राष्ट्रीय पर्व है और हम स्वतंत्रता दिवस को भारत के राष्ट्रीय पर्व के रूप में मनाते हैं। यह दिवस 15 अगस्त 1947 को ब्रिटिश साम्राज्य से राष्ट्रीय स्वतंत्रता की वर्षगांठ का प्रतीक है।

इस दिन भारत को लगभग 200 वर्षों तक अंग्रेजों के शासन के बाद स्वतंत्रता मिली थी। तभी से देश में 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन प्रधानमंत्री दिल्ली में लाल किले पर भारतीय ध्वज फहराते हैं।

इस अवसर के सम्मान में इक्कीस गोलियां चलाई जाती हैं। भारत के राष्ट्रपति “राष्ट्र के नाम संबोधन” देते हैं। इसके अलावा, कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं जहां बच्चे और उनके माता-पिता स्वतंत्रता सेनानियों के रूप में तैयार होते हैं और Independence Day पर Speech देते हैं।

 15 अगस्त के दिन स्कूल और कॉलेज में भाषण आदि का विशेष आयोजन किया जाता है। स्वतंत्रता दिवस के ख़ास अवषर पर अगर आप भी अपने महत्वपूर्ण विचार लोगों के सामने व्यक्त करना चाहते हैं और स्वतंत्रता दिवस पर भाषण की तैयारी करना चाहते हैं तो आप हमारे इस Independence Day Speech in Hindi आर्टिकल को पढ़कर बहुत ही आसानी से इसे लोगों तक पहुँचा सकते हैं,

Independence Day Speech in Hindi
Independence Day Speech in Hindi

साथ ही हमने अपने इस Post में independence day speech in hindi for class 1 , independence day speech in hindi 2022 for students Topic को भी cover किया है जो लोगों द्वारा काफी पूछा जाता है तो चलिए independence day speech in hindi 2022 के बारे में विस्तार से जानते हैं।

Independence Day Speech in Hindi :

नमस्कार!

आदरणीय अतिथि महोदय, प्रधानाचार्य जी, सभी अध्यापकगण, अभिभावक एवं मेरे सभी प्यारे दोस्तों सबसे पहले मैं भारत और विदेशों में रहने वाले सभी भारतीयों को स्वतंत्रता दिवस की ढेर सारी शुभकामनाएं देना चाहता हूँ। आज, मुझे स्वतंत्रता दिवस के ख़ास अवसर पर कुछ बोलने का मौका मिला है इसमें मैं खुद को बहुत सम्मानित महसूस कर रहा हूं। 

आज के दिन का एक विशेष महत्व है क्योंकि यह भारत की आजादी के 75वें वर्ष की शुरुआत का प्रतीक है जिसके लिए ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ मनाया जा रहा है। इस महत्वपूर्ण अवसर पर आप सभी को मेरी तरफ से हार्दिक शुभकामनायें।

इस पवित्र दिन की सुहानी सुबह, देशभक्ति के जोश और गर्व के साथ, 15 August को प्रत्येक भारतीय अपने हृदय को अपनी मातृभूमि के लिए असीम सम्मान और प्रेम से भर देता है।

हमारे राष्ट्र ने एक लम्बे समय तक विदेशी शासन के बड़े अन्याय और अत्याचार का सामना किया। हालांकि, भारत की सबसे अलग बात यह है कि, महात्मा गांधी के नेतृत्व में हमारे राष्ट्रवादी आंदोलन का चरित्र सत्य और अहिंसा के सिद्धांतों पर आधारित था।

उन्होंने और अन्य सभी राष्ट्रीय नायकों ने हमें न केवल औपनिवेशिक शासन से राष्ट्र को मुक्त करने, बल्कि इसके पुनर्निर्माण के लिए एक अमूल्य खाका प्रदान किया। हमारे सभी स्वतंत्रता सेनानियों के महान बलिदान के कारण आज आप और मैं उनके वीर कर्मों की बदौलत खुले आसमान के नीचे सांस ले रहे हैं। मैं उन वीर शहीदों की पवित्र स्मृति को नमन करता हूं।

उनके अमूल्य बलिदान ने हमें आज एक सभ्य अवस्था में रहने के लिए प्रेरित किया और उनके कारण ही आज हम प्रत्येक रात अपने बिस्तर पर आराम से सो पा रहें हैं।

यह हम सभी युवाओं के लिए एक प्रेरणा है कि हमने इस देश में जन्म लिया है हमे इस पर गर्व होना चाहिए। देशभक्ति के गीतों की गूँज इस दिन और भी ज्यादा महत्वपूर्ण बना देती है जो भारत की एक विशिष्ट पहचान है।

अब जब हम अपने गणतंत्र की 75वर्ष की यात्रा की ओर देखते हैं, तो हमें गर्व होता है की हमने कितनी दूरी तय की है। गांधीजी ने हमें सिखाया कि सही दिशा में धीमे और स्थिर कदम गलत दिशा में तेजी से कदम बढ़ाने से बेहतर हैं।

दुनिया भारत के चमत्कार को देखती है, जहां परंपराओं की बहुलता है और फिर भी सबसे बड़ा और सबसे जीवंत लोकतंत्र है।

15 August भारत देश के गर्व और सौभाग्य का दिवस है। यह पर्व हमारे हृदय में नवीन स्फूर्ति, उत्साह तथा देश-भक्ति का संचार है। स्वतंत्रता दिवस हमे इस बात बात की याद दिलाता है कि हमारे देश ने कितने वीर सपूतों को खोकर आजादी प्राप्त की है।

उन वीर सपूतों ने हमारे देश को आजाद तो करवा दिया लेकिन यह हमारा परम कर्त्वय होना चाहिए की अब हम अपनी भारत माता पर कोई आंच ना आने दें। चाहे हमे इसके लिए अपने प्राणों का त्याग ही क्यों न करना पड़ें।

हम स्वतंत्रता दिवस के पर्व को पूर्ण उत्साह, उमंग और जोश के साथ मनाते है और राष्ट्र की स्वतंत्रता और सार्वभौमिकता की रक्षा का प्रण लेते है। जाते-जाते मैं बस इतना ही कहना चाहूंगा कि –

भूल न जाना भारत माँ के सपूतों का बलिदान,
इस दिन के लिए जो हुए थे हँसकर कुर्बान,
आजादी की खुशियाँ मनाकर लो शपथ ये,
कि बनाएंगे देश भारत को और भी महान।

जय हिन्द…. जय भारत!..

independence day speech in hindi for class 1

आदरणीय प्रधानाचार्य जी, सभी अध्यापकगण एवं मेरे सभी प्यारे दोस्तों सबसे पहले मैं आप सभी को स्वतंत्रता दिवस की ढेर सारी शुभकानाएं देना चाहता हूँ।

भारत हर साल 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस मनाता है। यह 75वां स्वतंत्रता दिवस होगा। 1947 में भारत ब्रिटिश शासन से मुक्त हुआ। इस दिन भारत के प्रधानमंत्री लाल किले, नई दिल्ली में राष्ट्रीय ध्वज फहराते हैं। पूरे भारत में स्कूल और कॉलेज Independence Day को बहुत धूमधाम से मनाते हैं।

इस दिन हमारे देश के वीर क्रांतिकारियों ने अपने प्राणो की आहुति देकर भारत को अंग्रेजों की गुलामी से आज़ाद करवाया। राष्ट्र ध्वज के सम्मान में कुछ लाइन कहना चाहुँगा-

दे सलामी इस तिरंगे को,
जिससे तेरी शान है,
सर हमेशा ऊँचा रखना इसका,
जब तक दिल में जान है !!

Movies Related to Independence Day :

हमारे देश में ऐसे वीर सैनिक हैं जिन्होंने अपने प्राणो और अपने परिवार की चिंता ना करते हुए देश की रक्षा के लिए अपने प्राण त्याग दिए। ऐसे ही वीर सैनिकों को याद करते हुए तथा उनकी आत्मकथा पर कुछ फिल्मे बनी हैं जो कुछ इस प्रकार हैं –

  • Border
  • Uri
  • Hindustan Ki Kasam
  • Maa Tujhe Salam
  • The Legend of Bhagat Singh
  • 1971
  • LOC Kargil
  • Gandhi To Hitler
  • Mission Kashmir

साथ ही कुछ ऐसे DeshBhakti Geet भी जो आपको देश की रक्षा के लिए आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करते हैं –

  • Sandese Aate Hai
  • Ae Watan
  • Maa Tujhe Salam
  • Yeh Desh Hai Tera
  • Bharat humko Jaan se Pyara Hai
  • Mere desh ki dharti
  • Aisa des hai mera
  • Des Rangila

Independence Day Quotes :

“जब तक आप सामाजिक स्वतंत्रता प्राप्त नहीं करते हैं, कानून द्वारा जो भी स्वतंत्रता प्रदान की जाती है, वह आपके किसी काम की नहीं है।” ~B.R. Ambedkar

“व्यक्तियों को मारना आसान है, लेकिन आप विचारों को नहीं मार सकते। महान साम्राज्य ढह गए, जबकि विचार बच गए। ” ~Bhagat Singh

“एक व्यक्ति एक विचार के लिए मर सकता है, लेकिन वह विचार, उसकी मृत्यु के बाद, एक हजार जन्मों में अवतरित होगा।” ~Netaji Subhash Chandra Bose

“यह मत भूलो कि अन्याय और गलत के साथ समझौता करना सबसे बड़ा अपराध है।” शाश्वत नियम को याद रखें: यदि आप कुछ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको देना भी होगा। ~Netaji Subhash Chandra Bose

“अगर आपका खून नहीं रोता है, तो यह पानी है जो आपकी नसों में बहता है। मातृभूमि की सेवा नहीं तो यौवन का क्या? ~Chandra Shekhar Azad

“तुम मुझे खून दो और मैं तुम्हें आजादी दूंगा!” ~Netaji Subhash Chandra Bose

“यह मत पूछो कि आपका देश आपके लिए क्या कर सकता है। पूछें कि आप अपने देश के लिए क्या कर सकते हैं।” ~Jawaharlal Nehru

Leave a Comment