मिस्टर मीट की रियल स्टोरी | Mr. Meat Story in Hindi

नमस्कार, आज हम Mr. Meat Story in Hindi के बारे में जानेंगे। Mr. Meat एक Game है जिसे शायद आपने खेला हो या इसके बारे में सुना हो।

यह Game काफी लोगों का पसंदीदा Game भी है और इस Game में Mr. Meat की एक Story है जिसके बारे में हर कोई जानना चाहता है।

तो चलिए मिस्टर मीट की रियल स्टोरी के बारे में विस्तार से जानते हैं।

Mr. Meat जिस नाम से यह Game है और इस Game में जिस खूंखार करैक्टर को दर्शाया गया है उसका असली नाम John Mention (जॉन मेंशन) है।

मिस्टर मीट जब एक सामान्य व्यक्ति हुआ करता था तब उसका नाम John Mention था Mr. Meat उसका नाम तब पड़ा जब वह एक खूंखार जोंबी बन चुका था।

यानी John Mention जब एक सामान्य व्यक्ति हुआ करता था तो उसका एक परिवार था उसके परिवार में उसकी पत्नी और उसके दो बच्चे थे।

जॉन मेंशन का शहर से काफी दूर एक सुनसान इलाके में घर था और जॉन मेंशन अपने परिवार के साथ वहीं रहा करता था।

जॉन मेंशन अपने परिवार के साथ काफी खुश था, इसके साथ ही जॉन मेंशन एक काफी अच्छा बिजनेसमैन भी था वह काफी बड़े बिजनेस का मालिक था।

जॉन मेंशन दिल का काफी अच्छा व्यक्ति था लेकिन इन सबके बावजूद उसकी पत्नी की एक बुरी आदत थी जिसके बारे में जॉन मेंशन नहीं जानता था।

उसकी पत्नी Drugs Addicted थी यानी जॉन मेंशन की पत्नी ड्रग लिया करती थी। वह भी कोई सामान्य मात्रा में नहीं बल्कि बहुत ज्यादा मात्रा में वह ड्रग्स लेती थी।

लेकिन एक दिन जॉन मेंशन अपनी पत्नी को ड्रग्स लेते हुए देख लेता है और जॉन मेंशन को यह सब बातें पता चल जाती है। जो कि उसकी पत्नी उससे छिपाते आ रही थी।

यह सब देखकर जॉन मेंशन काफी ज्यादा परेशान हो जाता है वह अपनी पत्नी और अपने बच्चों से बहुत प्यार करता था और वह नहीं चाहता था कि उसका परिवार किसी ऐसी लत का शिकार हो।

यह सब देखते हुए जॉन मेंशन अपनी पत्नी के पास जाता है और उसे कहता है तुम Drugs लेना छोड़ दो इससे केवल तुम्हें ही खतरा नहीं है बल्कि हमारे बच्चों को भी इसका परिणाम भुगतना पड़ सकता है इसलिए मैं तुमसे हाथ जोड़कर निवेदन करता हूं कि तुम आज से Drugs लेना छोड़ दो।

यह सब सुनकर भी उसकी पत्नी को कोई फर्क नहीं पड़ता है क्योंकि वह ड्रग्स एडिक्ट हो चुकी थी और वह काफी ज्यादा मात्रा में ड्रग्स लिया करती थी जिसे छोड़ना उसके लिए नामुमकिन सा था।

जॉन मेंशन की पत्नी उसकी बात नहीं सुनती है और वह ड्रेस लेना जारी रखती है यानी वह रोज ड्रग्स लेती रहती है।

यह सब देखकर जॉन मेंशन और ज्यादा परेशान हो जाता है और अपनी पत्नी को समझाते-समझाते थक जाता है लेकिन उसकी पत्नी उसकी बात नहीं मानती है।

जॉन मेंशन अपनी पत्नी की इन सभी हरकतों को देखकर उसे अब काफी ज्यादा डांटने लगता है और उसे ड्रग ना लेने के लिए बहुत मना करता है लेकिन उसकी पत्नी अभी भी उसकी बात नहीं मानती है इसलिए जॉन मेंशन उसे मारता भी है।

mr meat story in hindi
Mr Meat Story

जॉन मेनशन अपनी पत्नी पर ड्रग्स लेने से पूरी तरह पाबंदी लगा देता है और वह अपनी पत्नी को ड्रग्स नहीं लेने देता। यह सब देखकर उसकी पत्नी उससे बहुत परेशान होने लगती है अब वह यह सोचती है कि वह मुझे ड्रग्स नहीं लेने दे रहा।

ड्रग्स न लेने से जॉन मेंशन की पत्नी बहुत ज्यादा परेशान होने लगती है और वह एक रात अपने दोनों बच्चों को लेकर चुपचाप घर से बाहर निकलती है और भाग जाती है।

सुबह जब जॉन मेंशन उठता है और उसे पता लगता है कि उसकी पत्नी उसके बच्चों को लेकर भाग गई है इससे वह और भी ज्यादा परेशान हो जाता है अब वह अपनी पत्नी और बच्चों को ढूंढने निकलता है लेकिन उनमें से कोई भी नहीं मिलता वह 2 से 3 दिन लगातार उन्हें ढूंढता रहता है लेकिन वह नहीं मिलते।

यह सब देखते हुए जॉन मेंशन बहुत ज्यादा परेशान होकर डिप्रेशन में चले जाता है और वह शराब पीने लग जाता है, जॉन मेंशन पूरा दिन अपनी पत्नी और अपने बच्चों के बारे में सोचता रहता है और पूरा दिन वह शराब पीते रहता है।

अब जॉन मेंशन पूरे दिन घर पर शराब के नशे में सोया रहता था जिसके चलते उसका बिजनेस बहुत ज्यादा घाटे में आ जाता है। जब जॉन मेंशन को इस बारे में पता चलता है कि उसका बिज़नेस अब पूरी तरह खत्म हो चुका है तो वह और भी ज्यादा डिप्रेशन में चला जाता है।

और वह पहले से ज्यादा शराब पीने लग जाता है। समय बीतता जाता है कुछ समय बाद जॉन मेनशन को यह एहसास होता है कि वह जो कर रहा है वह गलत है अब वह अपने आप को संभालने की कोशिश करने लगता है।

अब जॉन मेंशन को अपने बिजनेस के बारे में ख्याल आता है लेकिन उसका बिज़नेस पहले से ही खत्म हो चुका था लेकिन उसके पास कुछ पैसा बचा होता है अब वह इन पैसों से एक नया बिजनेस शुरू करने के बारे में सोचता है।

जॉन मेंशन अब अपना नया बिजनेस शुरू करता है जो मीट का बिजनेस होता है। वह 1 दिन बहुत ज्यादा मीट लेकर आता है और वह मीट का Stall लगा देता है यानी अब वह मीट बेचना शुरू कर देता है।

जॉन मेंशन के पास जितना भी पैसा बचा होता है उससे वह मीट खरीद कर उसे बेचना शुरू कर देता है कुछ समय तक उसका यह बिजनेस अच्छा चलता है लेकिन उसके बाद उससे मीट खरीदने कोई नहीं आता और उसका यह बिजनेस भी ठप पड़ जाता है।

अब जॉन मेंशन ने जितना भी मीट खरीदा था वह सभी खराब होने लगता है यानी वह मीट धीरे-धीरे सड़ने लगता है इसे देखकर जॉन मेंशन काफी ज्यादा परेशान होने लगता है क्योंकि अब उसके पास पैसे भी नहीं बचे थे उसके पास जितना पैसा था उस सबसे उसने मीट खरीद लिया था और अब उसका मीट भी नहीं बिक रहा, इसके बारे में सोचकर वह डिप्रेशन में चला जाता है और बहुत ज्यादा शराब पीने लगता है वह पूरा दिन शराब के नशे में रहने लगता है।

बहुत दिनों से कुछ ना खाने के कारण वह काफी ज्यादा भूखा भी होता है जिसके चलते वह एक दिन काफी नशे में होने के कारण जो उसने बेचने के लिए मीट खरीदा था जो अब सड़ चुका था उसे वह खाने लगता है, उस सड़े हुए मीट में काफी ज्यादा वायरस आ चुके थे इसके बावजूद भी वह काफी ज्यादा सड़ा हुआ मीट खा लेता है जिससे वह कुछ समय बाद बेहोश हो जाता है।

उसका दिमाग एक प्रकार से Freez हो जाता है और वह लगातार तीन दिन तक बेहोश रहता है जब 3 दिन बाद जॉन मेंशन उठता है तो वह पूरी तरह से बदल चुका होता है। उसने जो सड़ा हुआ मीट खाया था उसमें जितने भी वायरस है उन्होंने जॉन मेंशन को पूरी तरह से बदल कर रख दिया।

अब जॉन मेंशन जैसा पहले था वैसा नहीं रहा अब वह Mr. Meat बन चुका है अब उसकी Mentality ऐसी हो चुकी है कि अब उसे खाने के लिए केवल मीट चाहिए।

अब उसे मीट की इतनी भूख लगती है कि वह बेचने के लिए जितना भी मीट लाया था जो अब सड़ चुका था उसे वह खाने लगता है और पूरा खा जाता है।

इसके बावजूद भी उसकी भूख नहीं मिटती अब वह पूरी तरह मीट का भूखा बन चुका है यानी अब वह एक जोंबी बन चुका है। उसके घर में अब जो भी व्यक्ति आता है वह उसे मारकर खा जाता है। जॉन मेंशन अब Mr. Meat बन चुका है।

जॉन मेंशन के पड़ोस में एक लड़की थी जॉन मेंशन और वह काफी अच्छे दोस्त थे वह लड़की पहले से कहीं घूमने गई थी लेकिन जब वह अपने घर आती है तो वह जॉन मेंशन से मिलने के बारे में सोचती है और वह जॉन मेंशन से मिलने उसके घर पहुंचती है।

लेकिन जॉन मेंशन अब जॉन मेंशन नहीं रहा वह Mr. Meat बन चुका है जब वह लड़की उसके घर उससे मिलने पहुंचती है तो वह उसे पकड़ लेता है लेकिन उसे मारता नहीं है क्योंकि वह उसे काफी अच्छी तरह जानता था।

लेकिन वह उस लड़की को एक कमरे में बंद कर लेता है और वहीं से शुरू होता है Mr. Meat Game.. इस गेम में हमें उस लड़की को बचाना होता है यानी हमें उसके घर में छोड़ दिया जाता है और इसमें हमारा मिशन यही रहता है कि हम उस लड़की को बचाएं।

अगर आपने यह गेम खेला होगा तो आपको पता होगा कि इस गेम में वह लड़की एक कमरे में बंद होती है और सारे Lock खोलकर हमें उस लड़की को बचाना होता है जब हम सारे Lock खोलकर उस लड़की को बचा लेते हैं तो हमारा मिशन पूरा हो जाता है।

अंतिम शब्द :

ये थी मिस्टर मीट की रियल स्टोरी, ये Story आपको कैसी लगी हमें Comment Box में जरूर बताएं अगर आपको यह Story पसंद आई हो तो आप इसे अपने मित्रों के साथ भी Share कर सकते हैं!

Leave a Comment